हमारा इतिहास और विरासत

TGI, या ‘द ग्लोबल इंडेक्स’ की स्थापना 1615 में हुई थी, और यह यूनाइटेड किंगडम के व्यापारियों की कंपनी या ब्रिटिश / इंग्लिश ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा व्यापारिक प्रतिष्ठानों के उपयोग में आयी गयी।

इसका उद्देश्य सभी आवक और जावक संपत्ति के लिए माप करना, स्टॉक रखना और जवाबदेही और बीमा प्रदान करना था। इन परिसंपत्तियों को टीजीआई के कुछ व्यापारिक प्रतिष्ठानों के माध्यम से इंग्लैंड में वापस भेज दिया जाया करता था – ये परिसंपत्तियां मसाले से लेकर कैलिको और अन्य वस्त्रों तक थीं।

टीजीआई के सूचकांक और उसके संचालक ईस्ट इंडिया कंपनी के प्रमुख कार्यालयों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों के प्रमुखों की रिपोर्टिंग में सहायक थे। जैसे-जैसे साल बीतते गए और ईस्ट इंडिया कंपनी बढ़ती गई, TGI के प्रभाव और कार्यप्रणाली का विस्तार आगे की चौकी और व्यापारिक प्रतिष्ठानों तक होते गया, यहाँ तक कि अन्य यूरोपीय व्यापारियों के साथ संबंध भी बढ़ती गयी।

आगे विस्तार के साथ अठारहवीं शताब्दी के अंत तक, TGI एक स्वतंत्र निगम बन गयी, जिसका पहला कॉर्पोरेट महाराष्ट्र में था।आने वाले दशकों में TGI ने अन्य ब्रिटिश उपनिवेशों में साथ 7 और कॉर्पोरेट शुरू करी थी।

History of TGI Middle Header

विस्तार के साथ TGI द्वारा प्रदान की गई सेवाएं बढ़ती गयी – जिन्हे आज ‘इन्टेलिजन्स’, ‘सैन्य सामान की रसद’ के रूप में जाना जाता है।

आने वाले दशकों में, और 1874 तक ईस्ट इंडिया कंपनी के विघटन के साथ, TGI स्वतंत्र रूप से यूरोप के व्यापारियों को सेवाएं, जो उन्होंने ईस्ट इंडिया कंपनी को प्रदान की थीं, वो प्रदान करने के लिए विकसित हुई गयी।

1945 तक स्वतंत्रता के साथ, TGI की गिरावट शुरू हुई और भारत के मूल राज्य महाराष्ट्र में केवल एक चौकी बनी रही। इस चौकी ने यूरोपीय व्यापारियों को महत्वपूर्ण जानकारी और खुफिया सेवाएं प्रदान कीं। इन सेवाओं में आम तौर पर निवेश, रसद और भूमि से संबंधित मामलों के साथ-साथ सरकारी मामलों पर दलाली और सलाह दी गयी थी।

1985 तक ग्लोबल इंडेक्स का संचालन बंद हो गया और भारत में कई निगमों के साथ कई विलय होते गए। आखिरकार ग्वेर्नसे में एक स्वतंत्र निगम के रूप में TGI फिर से बनी गयी।

आज, TGI को अद्यतन किया गया है, और इसका अतभुत इतिहास और रिकॉर्ड संरक्षित है। कंपनी गुणवत्ता के मानकों को सुनिश्चित करने के लिए अपने सभी ग्राहकों को अनुकरणीय सेवाएं प्रदान करती है।